क्यों हमेशा गणेश पूजन सबसे पहले की जाती है?

ganesh-poojan
Ganesh Poojan

क्यों हमेशा गणेश पूजन सबसे पहले की जाती है?


दोस्तो, हम सब जानते है किसी भी पुजा के समय मे सबसे पहले गणेश पुजा की जाती है उसके बाद किसी और की पुजा की जाती है। यहाँ तक हम कोई काम भी शुरू करते है तो श्री गणेश का नाम लेकर शुरू करते है। लेकिन क्या आप जानते है कि आखिर क्यों हर बार गणेश पुजा सबसे पहले की जाती है? आइए जानते है इसके पीछे का कारण।

तो इसलिए गणेश जी की पुजा सबसे पहले होती है।

हम सब जानते हैं कि गणेश जी का सर अन्य देवताओं कि तरह नही है बल्कि एक हाथी का सर है। जिस हाथी ने अपना सर शिव जी को दे दिया था उनका नाम था गजासूर जो की एक असुर था।

उसके बाद शिव जी ने उस सर के मदद से गणेश जी को एक नया जीवन दिया था। गणेश जी एक बहुत ही आज्ञाकारी पुत्र थे जिसके कारण शिवजी और पार्वती जी ने वरदान दिया था कि जब भी संसार मे लोग कोई भी कार्य शुरू करेंगे तो सबसे पहले तुम्हारी पुजा की जाएगी।

तब से लेकर आज तक हर चीज़ की शुरुआत गणेश जी की पुजा से या मंत्र से की जाती है। अगर आपने थोड़ा शादी के समय ध्यान दिया होगा तो दूल्हे के बारात पहुँचने के बाद भी सबसे पहली पुजा गणेश जी की होती है उसके बाद अन्य विधि शुरू की जाती है। 


गणेशजी के कुछ मंत्र

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ।
निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा॥


अर्थ: इस अर्थ है कि गणेश जी सूंड घुमावदार है, शरीर बहुत विशाल काय है , वे करोड़ो सूर्य के समान महान प्रतिभाशाली है।मेरे प्रभु, हमेशा मेरे सभी कार्य बिना किसी बाधा के पूरे करें या करने की कृपा करे॥ 


-----------------------------------------

गं क्षिप्रप्रसादनाय नम:

अर्थ: किसी भी तरह की बढ़ा या तकलीफ दूर करके धन व आत्मबल की प्राप्ति के लिए इस हेरम्ब गणपति का मंत्र जरूर जप करें।

-----------------------------------------

ॐ गं नमः

अर्थ: नौकरी या किसी कार्य की प्राप्ति व धन की समस्या को दूर करने  के लिए लक्ष्मी विनायक मंत्र का जप करें। 


-----------------------------------------

ॐ श्रीं गं सौभ्याय गणपतये वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा।
 
अर्थ: शादी में आने वाले किसी भी प्रकार के दोषों को दूर करने वालों को त्रैलोक्य मोहन गणेश मंत्र का जप करने से जल्द ही शादी और अनुकूल जीवनसाथी की प्राप्ति होती है।



दोस्तो, उम्मीद करते हैं अब आपको मालूम चल गया होगा कि हर बार क्यों गणेश पूजन सबसे पहले कि जाती है बाकी किसी भी विधि को शुरू करने से पहले। यह article आपको कैसा लगा नीचे comment मे जरूर बताएं। इस article को अपने दोस्तो के साथ जरूर शेर करे।

Post a Comment

0 Comments